कोरोनावायरस के खतरे को देखतें हुए घरेलू उड़ान रद्द की गई।

आदर्श जीवन Disital
पोस्ट नवनीत मिश्रा    
            
  • कोरोनावायरस के खतरे को देखतें हुए घरेलू उड़ान रद्द की गई।

नई दिल्ली- विश्व भर में कोरोनावायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे है, जिसके कारण लगातार मरीजों की संख्या भी देखने को मिल रही है। भारत में मरीजों की संख्या 400 के पार पहुॅंच गई हैं।
कोरोनावायरस के खतरे को देखतें हुए घरेलू उड़ान रद्द की गई।
कोरोनावायरस के खतरे को देखतें हुए घरेलू उड़ान रद्द की गई।

सबसे ताजा मामला जो कोरोनोवायरस के मामले से ताल्लुक रखता है, यह देखने को मिला है कि अमेरिका, स्पेन और इटली में बहुत तेजी से बढ़े हैं। क्योंकि वायरस के असर ने पूरे राष्ट्र को लॉकडाउन में डाल दिया।

अभी हाल में स्पेन ने कोरोनावायरस के मामलें को ध्यान में रखतें हुए 11 अप्रैल तक आपातकाल लागू कर दिया क्योंकि राष्ट्र इस समय कोविद -19 के खतरों से झूझ रहे यूरोप के दूसरे सबसे खराब प्रकोप को नियंत्रित करने के लिए संघर्ष की सूचना दी। 

इटली ने पिछले 24 घंटों में 651 नई मौतें देखीं। 5,476 कोविद -19 मौतों वाला देश मृत्यु-दर के मामले में चीन से आगे निकल गया है। भारत में कोरोनावायरस के कारण 8 मौतें हुई हैं। 

नई दिल्ली और मुंबई के साथ-साथ कई अन्य राज्यों की राजधानियों में तालाबंदी देखी जा रही है क्योंकि देश भर में कोरोनोवायरस प्रभावित संख्या 415 है। 

दुनिया भर में कोरोनोवायरस से 330,000 से अधिक लोग प्रभावित हो रहे हैं, जिनमें से 99,003 लोग ठीक हो चुके हैं। भारत सरकार की घोषणा के रूप में कोरोनोवायरस मामलों की संख्या सोमवार को 415 तक पहुंच गई। 

जिसमें से आठ लोगो की मौतें हुई हैं। कल, केंद्र ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को काउंटर किया था जब उन्होंने कहा था कि राजधानी में या उसके बाहर कोई भी उड़ान की अनुमति नहीं दी जाएगी।

नागर विमानन महानिदेशालय ने यह कहते हुए स्पष्टीकरण दिया कि घरेलू उड़ान परिचालन में कोई बदलाव नहीं होगा। आज सुबह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर बंगाल जाने वाली उड़ानों को रोकने के लिए कहा। 

दुनिया भर में, कोरोनावायरस ने 13,000 से अधिक जीवन का दावा किया है और लगभग 300,000 लोग संक्रमित हैं। अत्यधिक संक्रामक रोग व्यक्ति से व्यक्ति में संपर्क के माध्यम से या सांस की बूंदों के माध्यम से फैलता है जब कोई रोगी खांसता या छींकता है। 

गुजरात में सोमवार को 11 नए मामले दर्ज किए गए, जो राज्य में कुल 29 को ले गए। अन्य राज्यों ने नए कोविद -19 मामलों की रिपोर्ट की जिसमें तमिलनाडु (2) और बिहार (1) शामिल हैं। 

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में भी सोमवार को दो मामले सामने आए। इस बीच, एक व्यक्ति जिसने कोरोनोवायरस के लिए सकारात्मक परीक्षण किया था और बाद में संक्रमण से उबर गया, मुंबई में एक अस्पताल में निधन हो गया। कोरोनोवायरस के संबंध में मुंबई से यह तीसरी मौत है। 

राज्य में मामलों में वृद्धि के बावजूद, महाराष्ट्र का कहना है कि कोई समुदाय प्रसार नहीं हुआ है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने एएनआई को बताया, मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि हमने सामुदायिक प्रसार चरण में प्रवेश नहीं किया है।

रविवार तक, महाराष्ट्र 67 और दिल्ली (26) केरल के बाद था। उत्तर प्रदेश में 29 मामले दर्ज किए गए, तेलंगाना ने 27, राजस्थान ने 27 और हरियाणा ने 23. तेलंगाना ने सोमवार को तीन नए मामले दर्ज किए।

कर्नाटक की कुल संख्या 26 रोगियों की थी, हालांकि राज्य ने सोमवार को एक नया मामला दर्ज किया। पंजाब में 21 मामले देखे गए जबकि गुजरात 18. लद्दाख ने 13 मामले दर्ज किए, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल ने सात-सात मामले सामने आये हैं। 

चंडीगढ़, मध्य प्रदेश और आंध्र प्रदेश ने प्रत्येक में छह मामलों की सूचना दी। जम्मू और कश्मीर में चार मामले सामने आए हैं। उत्तराखंड में चार मामले सामने आए हैं, जबकि बिहार, ओडिशा और हिमाचल प्रदेश ने दो-दो मामले दर्ज किए हैं। 

पुदुचेरी और छत्तीसगढ़ ने एक-एक मामले की सूचना दी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को कहा कि बिहार, गुजरात और महाराष्ट्र से एक-एक मौत हुई है। 

पश्चिम बंगाल में नोबल कोरोनवायरस के कारण मृत्यु भी दर्ज की गई। एक 55 वर्षीय व्यक्ति, जो हाल ही में इटली से वापस आया था, वायरस के लिए सकारात्मक परीक्षण के बाद निधन हो गया। 

किडनी की बीमारी से ग्रसित एक 38 वर्षीय व्यक्ति और हाल ही में कतर का यात्रा इतिहास एम्स-पटना में और 67 वर्षीय एक व्यक्ति की सूरत के एक अस्पताल में मृत्यु हो गई। 

63 वर्षीय व्यक्ति की मुंबई से एक और मौत हो गई। बाकी चार मौतें कर्नाटक, दिल्ली, महाराष्ट्र और पंजाब से हुईं।

भारत सरकार कोरोनावायरस को लेकर समय से सजग हो गई थी, आप सभी को बता दें कि अभी तक इस कोरोनावायरस के लिए कोई भी वैक्सींन नही है। परन्तु आप सभी को बता दू कि इसका वैक्सींन बनाने का काम जोरो पर है। इसका प्रोटोटाइप तैयार हो गया हैं।

कोरोनावायरस के लिए बनाये जा रहे टीके को लगातार परख चल रही है,  अमेरिका में इस टीका को पूरा करने में लगे हैं। लेकिन फिलहाल इस बीमारी का इलाज हाथ को धोना और सफाई बनाये रखना ही है।

इस वायरस के परीक्षण के बाद आये नतिजों से यह पता चलेंगा कि इस टीका का षरीर में लगने के बाद यह प्रतिक्रिया होगा। अभी तक मिल रही खबरों में इसका परीक्षण चल रहा है।

’किसी प्रकार के लेटेस्ट समाचार पत्र एवं समाचार  चुनाव समाचार अर्थव्यवस्था समाचार आटो समाचार टेक समाचार विभिन्न समाचार के अपडेट के लिए आप डेली आदर्श जीवन को फौलो करें।
( इनपुट )

Post a Comment

आप का कमेंट हमारे लिए उपयोगी है कृपया आप से निवेदन है की आप स्पैम लिंक न डाले
your comment is important for us. we request to you don't share spam links.