कोरोनावायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी मंगलवार शाम देश को संबोधित करेगें।

आदर्श जीवन Disital
पोस्ट नवनीत मिश्रा  
              

  •  कोरोनावायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी मंगलवार शाम  देश को संबोधित करेगें।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी कोरोनावायरस के लागातार बढ़ते मामले को देखतें हुए आज  शाम लगभग 8 बजे जनता को संबोधित कर सकतें हैं।
 कोरोनावायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी मंगलवार शाम  देश को संबोधित करेगें।
 कोरोनावायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी मंगलवार शाम  देश को संबोधित करेगें।

भारत में कोरोनावायरस के मामले लगभग 500 से अधिक हो गया है। जिसमें से 9 लोगो की मौत हो गई। भारत में लगभग 16 जिलों को पूर्णतः लाकडाउन में डाल दिया गया है। 


आज भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार की शाम  को लगभग रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे और भारत में नौ लोगों की जान लेने वाले और और लगभग 500 लोगों की जान को खतरे में डालने वाला दुनिया का सबसे खतरनाक वायरस कोविद -19 रोग के प्रमुख पहलुओं पर चर्चा करेंगे। 


देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एक हफ्ते में यह दूसरी बार है जब वह कोरोनावायरस कोविड-19 के उपर देष की जनता को संबोधित होती है। यह कोरोनावायरस को लेकर जैसे लक्षणों के साथ तेजी से फैलने वाली बीमारी पर देश को संबोधित करेंगे जिसने दुनिया भर में 377,400 लोगों को संक्रमित किया है और 16,500 से अधिक लोग मारे गए हैं। 


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को लेकर ट्विटर पर लिखा कि “मैं कोरोनोवायरस प्रकोप के वैश्विक प्रकोप के बारे में देशवासियों के साथ कुछ महत्वपूर्ण बातें साझा करूंगा। आज, 24 मार्च को मैं रात 8 बजे देश को संबोधित करूंगा। इससे पहले भारत देष की मुखिया के रूप में उन्होनें पिछले गुरुवार को एक टेलीविजन संबोधन में, मोदी ने कोविड-19 वायरस से उत्पन्न खतरे को उजागर किया। 


यह बिमारी कोरोनावायरस को लेकर चिंता को व्यक्त किया, जो बीमारी का कारण बनता है, उन्होनें लोगों से अपील किया था कि वह  फिलहाल के लिए एक दुसरे से सामाजिक दूरी को बनाए रखें और घर से काम करने की अपील की, और भारतीयों से खुद को और दूसरों को एक दूसरे से अलग-थलग रखने का संकल्प लेने के लिए कहा, जिससें कि समाज में इस वायरस को लेकर वह सुरक्षित रहे।


प्रधानमंत्री मोदी ने दो दिन पहले किये अपने देश के नाम पर संबोधन में इस  संकट से उपजी आर्थिक चुनौतियों को कम करने के लिए एक आपातकालीन टास्क फोर्स के राष्ट्र को अवगत कराया और नागरिकों से अपने 30 मिनट के संबोधन में दृढ़ संकल्प और संयम की अवधारणाओं पर बल देते हुए जनता कर्फ्यू (लोगों के कर्फ्यू) का निरीक्षण करने का अनुरोध किया। और बताया कि देष को कोरोनावायरस से लड़ने के लिए यह टास्क र्फोस मदद करे।


जनता कर्फ्यू रविवार को 14 घंटे के लिए लगाया गया था, यह जनता क्रफर्यू का समय लगभग सुबह 7 से रात में 9 बजे तक चला था। प्रधान मंत्री द्वारा सलाह दी गई, इस अवधि के दौरान लोग सड़कों और सार्वजनिक स्थानों से दूर रहे। रविवार को लोगों के कर्फ्यू के दौरान और उसके बाद, भारत ने संक्रमण को रोकने के लिए यात्रा प्रतिबंध सहित अभूतपूर्व प्रतिबंधों की घोषणा की। 


दिल्ली सहित 32 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में पूर्ण तालाबंदी की जा रही है। सोमवार को मोदी ने राज्य सरकारों से देश के कई हिस्सों में घोषित अभूतपूर्व उपायों का पालन सुनिश्चित करने की अपील करते हुए कहा कि कई लोग अभी भी स्थिति को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। 


और फिर, ट्विटर पर फिर से, मोदी ने कहा कि उन्होंने उद्योग के नेताओं से काम के बाद के आदेश को यथासंभव जारी रखने का आह्वान किया। ट्रेनों, महानगरों और अंतरराज्यीय बसों को रोक दिया गया है और एयरलाइंस कल से उड़ान बंद कर देगी। 


पीएम मोदी ने कल एक ट्वीट में चिंता व्यक्त की थी कि कई लोग लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे थे। उन्होंने कहा कि कई लोग अभी भी लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। 


कृपया अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। मैं राज्य सरकारों से अनुरोध करता हूं कि वे नियमों और कानूनों का पालन करें।


भारत में लोगों ने लगातार यह कोषिष की न हो तो वह घर को नहीं छोड़े। भारत में कोरोनावायरस को लेकर बढ़तें मामले के बात लोग काम न होंने पर अपने घर पर वापस लौट रहे है। यह भी मामला प्रशाशन के लिए चिंता का कारण मन रही है।


उत्तर प्रदेश की शहर गोरखपुर में मुम्बई से आखिरी ट्रैन  से गोरखपुर में आ गया। गोरखपुर की स्टेषन पर भीड़ की पहले स्क्रीनिंग किया गया फिर उसके बाद उनको जाने दिया गया है।


भारत में कोरोनावायरस के खतरे में 16 जिलों को पूरा लाॅकडाउन में रख दिया गया हैं। जिससे कि वह इस बीमारी का संक्रमण न फैलें। अब इस लाकडाउन को और भी कड़ा कर दिया गया है। जो लोग घर से बाहर निकल रहे है, उनको पकड़ा गया और कई के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज किया हैं।


उत्तर प्रदेश  में सभी बार्डर को सील कर दिया गया है जिससे कि कोई भी एक राज्य से दूसरे राज्य नही जा सकते है।


’किसी प्रकार के लेटेस्ट समाचार पत्र एवं समाचार  चुनाव समाचार अर्थव्यवस्था समाचार आटो समाचार टेक समाचार विभिन्न समाचार के अपडेट के लिए आप डेली आदर्श जीवन को फौलो करें।
( इनपुट )

Post a Comment

आप का कमेंट हमारे लिए उपयोगी है कृपया आप से निवेदन है की आप स्पैम लिंक न डाले
your comment is important for us. we request to you don't share spam links.